ध्‍यान करने से क्या फायदा है?

हैलो  दोसतो ये कुछ किसी  वेबसाइट से बहुत अच्छी जानकारी प्राप्त की है

जैसे ही आप अपने अनुभवों से अपनी पहचान बना लेते हैं, जैसे ही आप अपनी पहचान किसी ऐसी चीज से बना लेते हैं जो आप नहीं हैं, आपकी समझ, आपकी बोधन-क्षमता, पूरी तरह बेकाबू हो जाती है। आप जीवन को वैसे नहीं देख सकते जैसा वो है; अपकी ग्रहण करने की क्षमता बहुत ज्यादा विकृत हो जाती है। यह शरीर जिसे अपने बाहर से इकट्ठा किया है, जैसे ही आप इसे ‘स्वयं’ के रूप में अनुभव करने लगते हैं, जैसे ही आप अपने दिमाग पर पड़े प्रभावों व संस्कारों को ‘स्वयं’ के रूप में अनुभव करने लगते हैं, आप जीवन को उस तरह से नहीं अनुभव कर सकते जैसा वह है। आप जीवन को उस तरह से अनुभव करेंगे जैसा आप के जीवित रहने के लिए जरूरी है, वैसा नहीं जैसा वह असल में है।

जब आपने मानव देह धारण किया है तो इसे जीवित रखना बहुत जरूरी है, पर यह काफी नहीं है। अगर आप इस ग्रह के किसी दूसरे प्राणी की तरह आए होते तब, पेट भरा कि जीवन बेफिक्र हो जाता। परंतु जब आप एक मनुष्य के रूप मे आए हैं; जीवन सिर्फ जीवित रहने तक ही सीमित नहीं है। एक मनुष्य के लिए जीवन वाकई में तब शुरू होता है जब जिंदा रहने की उसकी जरूरतें पूरी हो जाती हैं। ध्यान आपको एक अनुभव कराता है, एक आंतरिक अवस्था जहाँ ‘मेरा’ क्या हैं और ‘मैं’ कौन हूँ यह अलग-अलग हो जाता है। एक दूरी बन जाती है, आप क्या हैं और आपने क्या जमा किया है, इनके बीच एक फरक आ जाता है। फिलहाल हम इसे ही ध्यान कह सकते हैं।

इसे करने से क्या लाभ होगा? यह आपकी समझ में पूर्ण स्पष्टता लाता है। आप जीवन को वैसे देख पाते हैं जैसा वह है, बिना किसी तोड़ मरोड़ के। अभी आप इस दुनिया में किस तरह जी रहे हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप दुनिया को कितने स्पष्ट तरीके से देख पा रहे है। यदि मुझमें समझ नहीं है केवल आत्मविश्‍वास है तो मैं मूर्ख ही साबित होऊंगा। अधिकतर लोग समझ की कमी को अत्‍मविश्वास बढ़ाकर के पूरा करने की कोशिश करते हैं। वास्तव में समझ का स्थान कोई और चीज नहीं ले सकती। जब आप को यह समझ आ जाती है तो आप स्वाभाविक रूप से ध्यान की और झुकते हैं। तब आप सभी गलत धरनाओं से मुक्त होना चाहेंगे और जीवन को वैसा ही देखेंगे जैसा वह है, क्‍योंकि तब आप जीवन डगर पर बिना किसी रूकावट के, बिना कोई ठोकर खाए चलना चाहेंगे।

Advertisements

Ok

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: